साहित्य ही विश्व की धरोहर-रामबाबू शर्मा

ram

-साहित्य प्रदशर्नी का शुभारम्भ
-लुपिन ने पांच स्कूल को साहित्य भेंट किया
हलैना। शिक्षा विभाग एवं लुपिन संस्थान की ओर से गांव नैवाडा स्थित राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक स्कूल पर एक दिवसीय पुस्तक मेला का लगाया गया,जिसमें साहित्य प्रदशर्नी एवं साहित्य वितरण किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि संस्था प्रधान रामबाबू शर्मा एवं विशिष्ठ अतिथि लुपिन ग्राम पंचायत नैवाडा अध्यक्ष अमरसिंह,नरेन्द्र कुमार शर्मा,विष्णु मित्तल व शेरसिंह रहे। अध्यक्षता समाजसेवी रतीराम भगोर ने की। मुख्य वक्ता संस्था प्रधान रामबाबू शर्मा ने कहा कि साहित्य ही विश्व की धरोहर है,साहित्य से विश्व का इतिहास एवं महापुरूषों की जीवनी सहित धरती के श्रृंगार आदि की जानकारी मिलती है।

उन्होने कहा कि साहित्य को पढने के साथ-साथ उसका अध्यन्न करना चाहिए,जिससे युवा पीढी को देश की धरोहर एवं इतिहास की जानकारी मिल सके। उन्होने बताया कि लुपिन संस्थान के अधीषासी निदेशक सीतराम गुप्ता ने युवा पीढी एवं बच्चों को साहित्य के ज्ञान उपलब्ध कराने को भरतपुर-धौलपुर जिला के करीब 100 सरकारी स्कूलों को साहित्य वितरण करने का लक्ष्य रखा है,जिसके तहत गांव नैवाडा के सरकारी स्कूल को करीब 8 हजार 500 रू0 मूल्य की 150 पुस्तके भें की है। लुपिन के ब्लाॅक अधिकारी नरेन्द्र शर्मा ने बताया कि लुपिन द्वारा गांव नैवाडा,धरसौनी,न्यामदपुर,वैर आदि सरकारी स्कूल को 150-150 पुस्तके उपलब्ध कराई गई है। इस अवसर पर अंशु डागुर,राधा कुमारी,ममता रानी,विजयलक्ष्मी,मुकेश कुमार,विक्रमसिंह,बच्चूसिंह आदि ने अतिथियों का स्वागत किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *