डार्क जोन से स्थानांतरण की पुरानी नीति लागू करने के सम्बंध में कराया जाएगा परीक्षण

ram

– चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्य मंत्री

जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने बताया कि डार्क जोन वाले 11 जिलों मे विभागीय कार्मिकों के स्थानांतरण के लिए पुरानी नीति लागू करने के सम्बंध में परीक्षण करवा कर उचित निर्णय लिया जाएगा। गर्ग सोमवार को प्रश्नकाल में विधायकों की ओर से पूछे गए पूरक प्रश्नों का जवाब दे रहे थे। इससे पहले विधायक अमीन खां के मूल प्रश्न का जवाब देते हुए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि प्रदेश में कुल 14 हजार 378 उप स्वास्थ्य केन्द्र स्वीकृत हैं। उन्होंने जिलेवार संख्या का विवरण सदन के पटल पर रखा।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्य मंत्री ने बताया कि वर्तमान में बाडमेर जिले में 760 एवं जैसलमेर जिले में 169 उप स्वास्थ्य केन्द्र स्वीकृत हैं। पंचायत समितिवार संख्या विवरण सदन के पटल पर रखा। उन्होंने बताया कि बाडमेर जिले की बालोतरा पंचायत समिति के दूधवा और चौहटन पंचायत समिति के घोनियां प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर चिकित्सक पदस्थापित नहीं है। डॉ. गर्ग ने बताया कि जैसलमेर जिले की सम पंचायत समिति के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र फतेहगढ़ में चिकित्सक पदस्थापित है, किन्तु चिकित्सक के सी.पी.एस. पाठयक्रम में जाने के कारण पद रिक्त है। उन्होंने बताया कि उक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में वैकल्पिक व्यवस्था के तहत नजदीकी चिकित्सा संस्थानों के चिकित्सकों द्वारा कार्य सम्पादन किया जा रहा है।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्य मंत्री डॉ. गर्ग ने बताया कि बाडमेर जिले में 35 एवं जैसलमेर जिले में 22 उप स्वास्थ्य केन्द्रों पर कोई स्टाफ पदस्थापित नहीं है। उन्होंने पंचायत समितिवार सूची सदन के पटल पर रखी। उन्होंने बताया कि जिन उप स्वास्थ्य केन्द्रों पर स्टाफ पदस्थापित नहीं है, वहां वैकल्पिक व्यवस्था के अन्तर्गत नजदीक के उप स्वास्थ्य केन्द्रों की महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं द्वारा सेवाऎं दी जा रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *