टोंक पहुंची गुर्जर आरक्षण की आग की लपटें

ram

-जयुपर- कोटा मार्ग ठप्प होने से मुसाफिर होते रहे परेशान
-टोंक में धारा 144 लागू
टोंक। पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जर समाज द्वारा प्रदेश भर में किया जा रहे आंदोलन की आग से टोंक भी नही बच सका। दो दिन पूर्व गुर्जर समाज के नेताओं ने बैठक कर एनएच 12 पर स्थित बनास पुलिया के पास जाम लगाने के लिये गये निर्णय के अनुसार सोमवार को पक्का बंधा मेहगांव स्थित भूणाजी महाराज के मंदिर में सुबह से ही गुर्जर समाज के लोग एकत्र होना आरंभ हो गये। जहां गुर्जर समाज के जिलाध्यक्ष रामलाल संडीला की अध्यक्षता में बैठक कर वहां से प्रदर्शन करते हुए एनएच 12 पर आये जहां अपनी आरक्षण की मांग को लेकर सडक़ पर खाटे बिछा दी तथा बंबूल, कांटे आदि पटककर जाम लगा दिया। गुर्जर समाज द्वारा लगाये गये जाम का समर्थन करने के लिय टोंक पंचायत समिति के प्रधान जगदीश गुर्जर भी समाज के लोगों के बीच सडक़ पर बैठकर अपना विरोध जताया। गुर्जर समाज द्वारा जाम लगाने की पूर्व सूचना होने के कारण जिला पुलिस भी सुबह से ही कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए मुस्तैद तो रही लेकिन मूकदर्शक बनकर गुर्जर समाज द्वारा लगाये गये जाम का तमाशबीन की तरह खड़ी रहकर तमाशा देखती रही। वाहनों में शरारती तत्वों द्वारा तोडफ़ोड़ न कर दे इसलिए ऐतिहातन पुलिस ने जाम लगे स्थान से एक किलोमीटर दूर से ही वाहनों को रोकना व डायवर्ट करना आरंभ कर दिया।

इस दौरान गुर्जर समाज के लोगों ने एबूलेंस एवं शादी विवाह की गाडिय़ों को बेरोकटोक आने-जाने दिया गया। लेकिन जाम के कारण जयपुर की तरफ से आने वाली रोड़वेज बसों को एक किलोमीटर दूर माता वैष्णो मंदिर के पास ही रोकने के कारण टोंक में आने वाली सवारियों को भारी असुविधा का सामना करते हुये पैदल चलकर शहर में पहुंचना पड़ा। इधर पुलिस अधीक्षक चूनाराम जाट, अति. पुलिस अधीक्षक पुष्पेन्द्र सिंह राठौड़, वृत्ताधिकारी टोंक डॉ. हरिप्रसाद सोमानी, डीवाईएसपी एसटीएससी सैल अशोक बुटोलिया, प्रशिक्षु आरपीएस देशराज, उपखण्ड अधिकारी सी. एल. शर्मा, सदर थानाधिकारी जगदीश प्रसाद मीना, थानाधिकारी पुरानी टोंक नेमीचंद चौधरी, पुलिस निरीक्षक राजकुमार नायक, नायब तहसीलदार टोंक जगदीश प्रसाद बैरवा, पटवारी जीतू शर्मा एवं रामजीलाल जाट आदि भारी पुलिस जाप्ते के साथ जाम स्थल से दूर खडे रहकर वस्तुस्थिती पर निगरानी रख रहे थे। आन्दोलन के मध्यनजर कानून व्यवस्था बनाये रखने हेतु पुलिस अधीक्षक द्वारा तीन डिवाईएसपी, तीन निरीक्षक पुलिस, दो उप निरीक्षक, 11 सहायक उप निरीक्षक सहित 210 हैड कानि/कानि. का जाप्ता लगाया गया। जिसके प्रभारी अति. पुलिस अधीक्षक पुष्पेन्द्र सिंह राठौड़ को बनाया गया। जिला कलेक्टर आर. सी. ढेनवाल ने कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिये टोंक में भारतीय दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 लागू की गई है।
जाम स्थल से पहले ही रोका वाहनों को-
पुलिस द्वारा गुर्जर आन्दोलन को देखते हुये जयपुर से आने वाली बसो व अन्य वाहनों को बनास पुलिया से पहले वैष्णों मंदिर के पास बेरिकेट्स लगाकर रोका गया। वही टोंक से जयपुर की ओर से आने वाले वाहनों को सदर थाने से 500 मीटर पहले ही रोककर वापिस डायवर्जन करवाया गया। रोड़ जाम के चलते दोपहर बाद सडक़ों पर सन्नाटा पसरा दिखाई दिया। समाचार लिखे जाने तक गुर्जर समाज के आंदोलनकारी लोग सडक़ पर जाम लगाये हुये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *